एक दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी

एक दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी
(समकालीन हिन्दी साहित्य में
भारतीय नैतिक मूल्यों का अतिक्रमण)